अखिल भारतीय जैन पत्र संपादक संघ कब/ क्या/ कहाँ

अखिल भारतीय जैन पत्र संपादक संघ एक नजर में

प्रेरणास्त्रोत :राष्ट्र संत सिद्धांत चक्रवर्ती श्वेतपिच्छाचार्य विद्यानंद मुनिराज

संस्थापक : जर्नलिस्ट अखिल जैन ” बंसल “

स्थापना : विजयादशमी, 2 अक्टूबर 2006

प्रथम अध्यक्ष (मनोनीत)

श्री कपूरचंद जैन पाटनी
गोहाटी (आसाम)

महामंत्री (मनोनीत) :
अखिल जैन “बंसल”, जयपुर (राज.)

कार्यकाल :
16 मई 2007 से 25 अप्रैल 2008

द्वितीय अध्यक्ष :

श्री रवीन्द्र मालव
ग्वालियर (म.प्र.)

महामंत्री :
अखिल जैन “बंसल”
जयपुर (राज.)

कार्यकाल :
25 अप्रैल 2008 से 16 जुलाई 2011

तृतीय अध्यक्ष :
डा.चीरंजीलाल बगडा
कोलकाता (प.बंगाल)

महामंत्री :
अखिल जैन “बंसल”
जयपुर (राज.)

कार्यकाल :
16 जुलाई 2011 से 23 नवम्बर 2014

चतुर्थ अध्यक्ष :
श्री रवीन्द्र मालव
ग्वालियर (म.प्र.)

महामंत्री :
डा.सुरेन्द्र जैन “भारती”
बुरहानपुर (म.प्र.)

कार्यकाल :
23 नवम्बर 2014 से 26 जनवरी 2018

पंचम अध्यक्ष :
श्री शैलेन्द्र जैन एडवोकेट
अलीगढ़ (उ.प्र.)

महामंत्री :
अखिल जैन “बंसल”
जयपुर (राज.)

कार्यकाल :
26 जनवरी 2018 से

राष्ट्रीय  अधिवेशन

प्रथम अधिवेशन :
25 अप्रैल 2008
बाहुबली एनक्लेव, दिल्ली
पावन सान्निध्य :
राष्ट्र संत सिद्धांत चक्रवर्ती श्वेतपिच्छाचार्य मुनि श्री
विद्यानंद जी

अध्यक्षता : पद्मश्री सरयू दफ्तरी,मुम्बई

द्वितीय अधिवेशन :
25 अप्रैल 2009
हस्तिनापुर (उ.प्र.)
पावन सान्निध्य :
आचार्य श्री धर्मभूषण ससंघ
अध्यक्षता :
तत्ववेत्ता डा.हुकमचंद भारिल्ल, जयपुर

तृतीय राष्ट्रीय अधिवेशन :
14 से 16 जुलाई 2011
तीर्थराज सम्मेदशिखर जी
पावन सान्निध्य :
आचार्य श्री वर्द्धमान सागर जी ससंघ
अध्यक्षता :
प्राचार्य नरेन्द्र प्रकाश जैन
फिरोजाबाद

चतुर्थ राष्ट्रीय अधिवेशन :
22-23 नवम्बर 2014
सूरत (गुजरात)

पावन सान्निध्य :
आचार्य श्री सुनीलसागर जी ससंघ

अध्यक्षता :
डा.चीरंजीलाल बगडा
कोलकाता (प.बंगाल)

पंचम राष्ट्रीय अधिवेशन:
26 जनवरी 2018
करगुवां जी,झांसी (उ.प्र.)
आशीर्वाद:
आ.श्री ज्ञान सागर जी ससंघ
एवं मुनि श्री अभयसागर जी ससंघ

अध्यक्षता :
श्री प्रदीप जैन “आदित्य”
पूर्व केन्द्रीय मंत्री भारत सरकार

इतिहास

1 मार्च 2007 को श्री महावीर जी की पावन पवित्र भूमि पर आ.श्री चैत्यसागर जी के मंगल आशीर्वाद व मुनि श्री उर्जयन्त सागर जी के पावन सान्निध्य में जैन पत्रकारों का प्रथम राष्ट्रीय सम्मेलन  समन्वय वाणी जिनागम शोध संस्थान के आमंत्रण पर सम्पन्न हुआ।

इस सम्मेलन में देशभर से 31  जैन मीडिया कर्मी सम्मिलित हुए।जिनमें प्रमुख थे-सर्व श्री मिलापचंद जी डण्डिया-जयपुर, डा.चीरंजीलाल बगडा-कोलकाता, डा.संजीव भानावत-जयपुर, डा.भागचंद “भागेन्दु”-दमोह,अनूपचंद एडवोकेट-फिरोजाबाद, पं.रतनचंद भारिल्ल-जयपुर, प्रवीणचंद छावडा-जयपुर, डा.रमेशचंद जैन-निवाई,रमेश कासलीवाल-इन्दौर तथा अखिल बंसल-जयपुर आदि। सम्मेलन में लिए गये निर्णयानुसार 10 अप्रैल 2007 को इसे न्यास रूप में रजिस्टर्ड करने की कार्यवाही की गयी। न्यास में अखिल बंसल -संस्थापक (महामंत्री),श्री मिलापचंद डण्डिया(अध्यक्ष), महेन्द्र कुमार पाटनी (कोषाध्यक्ष),डा.रमेशचंद जैन तथा डा.राजेन्द्र बंसल  इस प्रकार 5 न्यासी रखे गये।

02-jss